मेथी के फायदे और नुकसान – Benefits Of Fenugreek And Side Effects in Hindi

मेथी हर घर के किचन में आसानी से पाई जाती है। ये एक तरह की जड़ी बूटी होती है जिसकी पत्तियां साग बनाने के काम आती है और इसके दाने मसाले के रूप में प्रयोग किये जाते हैं। स्वास्थ्य की दृष्टि से मेथी काफी ज्यादा फायदेमंद होती है। ये कई तरह के रोगों का उपचार करने में सक्षम है। इसके गुणों के कारण ही इसे पुराने समय से आयुर्वेद में दवाइयां बनाने के लिए भी इस्तेमाल किया जाता रहा है। मेथी में कार्बोहाइड्रेट, कैल्शियम, प्रोटीन और आयरन जैसे कई पोषक तत्व पाए जाते हैं। डायबिटीज़ के रोगियों को अपना ब्लड शुगर कम करने और स्तनपान कराने वाली महिलाओं को शरीर में दूध की मात्रा बढ़ाने के लिए मेथी का सेवन करना चाहिए। हालांकि मेथी के बीजों का स्वाद जरूर थोड़ा कड़वा होता है मगर इसकी खुशबू काफी अच्छी होती है। इसके अलावा कई बीमारियों में भी मेथी का पानी पीने की सलाह दी जाती है। आइये जानते हैं, मेथी के फायदे और नुकसान के बारे में।

मेथी के फायदे -Benefits Of Fenugreek

मेथी के फायदे सेहत के लिए – Health Benefits Of Methi

अगर आप रोज़मर्रा की ज़िंदगी में छोटी – छोटी बीमारियों जैसे सर्दी खांसी, पेट दर्द, जोड़ों में दर्द आदि से गुजर रहे हैं तो मेथी के बीज आपके लिए काफी फायदेमंद साबित हो सकते हैं। खासतौर पर गठिया के दौरान होने वाले जोड़ों के दर्द में मेथी के सेवन से आराम पहुंचता है। इसमें मौजूद आयरन और कैल्शियम के पोषक तत्व हड्डियों को स्वस्थ व मजबूत बनाते हैं। इसके साथ ही मेथी के दाने जोड़ों में होने वाली सूजन को भी कम करने में भी सहायक होते हैं। इसके लिए आप एक ग्लास गर्म पानी में मेथी के पाउडर और अदरक के पाउडर (जिसे सोंठ भी कहा जाता है) को मिलाकर दिन में कम से कम दो बार पीजिए। जोड़ों के दर्द में राहत मिलेगी। वही पेट दर्द के लिए एक चम्मच मेथी के दानों को तवे पर भूनकर गर्म पानी के साथ पियें, पेटदर्द में आराम मिलेगा। सर्दी खांसी में मेथी का साग खाने से बहुत फायदा मिलता है।   

मेथी के फायदे डायबिटीज़ के लिए – Methi For Diabetes

डायबिटीज़ के मरीजों को अक्सर खाने- पीने को लेकर कई तरह की नसीहतें दी जाती हैं। चाय में कम चीनी से लेकर फलों के राजा आम को भी न खाने तक की सलाह  दी जाती है। मगर हम आपको बता दें कि इस सबके अलावा डायबिटीज़ में मेथी भी काफी फायदेमंद होती है। इसमें मौजूद पोषक तत्व डायबिटीज़ में ब्लड शुगर लेवल को नियंत्रित करने में सहायक होते हैं। इसके लिए एक चम्मच मेथी दाने को एक ग्लास पानी में रात भर के लिए ढककर रख दें। सुबह इसे छानकर खली पेट पिएं। रोज़ाना इसका सेवन करने से डायबिटीज़ कंट्रोल में रहेगी। अगर आप डायबिटीज़ की दवाइयां भी ले रहे हैं तो मेथी का पानी पीने से पहले एक बार अपने डॉक्टर से सलाह जरूर ले लें।   

मेथी के फायदे स्तनपान कराने वाली महिलाओं के लिए – Methi For Breast Milk

अगर आप एक नई मां हैं और अपने बच्चे को स्तनपान करा रही हैं शरीर में दूध कम बनने की समस्या से जूझ रही हैं तो आपको मेथी के बीजों व पत्तियों का सेवन जरूर करना चाहिए। ये आपके शरीर में दूध बनाने में मदद करते हैं। इसमें मौजूद विटामिन और मैग्नीशियम के गुण शरीर में बनने वाले दूध की गुणवत्ता को भी बढ़ाते हैं। इसके लिए एक ग्लास पानी में एक चम्मच मेथी के दानों को रातभर के लिए रख दें। फिर सुबह मेथी के बीजों के साथ इस पानी को उबाल कर पी लीजिये। ऐसा रोज़ करने से स्तनपान कराने वाली महिलाओं के स्तनों में दूध की वृद्धि होती है। वैसे तो मेथी के बीज का कैप्सूल भी बाजार में उपलब्ध हैं मगर इसका सेवन करने से पहले डॉक्टर से एक बार परामर्श जरूर कर लें।  

मेथी के फायदे पीरियड दर्द के लिए – Methi For Periods Pain

पीरियड में दर्द के दौरान आपने अक्सर घर के बड़े- बूढ़ों के मुंह से मेथी का पानी पीने की सलाह सुनी होगी और कई बार उसे नजरअंदाज भी किया होगा। क्योंकि ये पीने में हल्की कड़वाहट लिए होता है। बड़े- बुजुर्गों की ये सलाह काफी काम की होती है और इसे नजरअंदाज करना आपके लिए नुकसानदायक हो सकता है। मेथी में मौजूद आयरन और अन्य पोषक तत्व न सिर्फ शरीर में खून की मात्रा बढ़ाते हैं बल्कि पीरियड के दौरान होने वाले दर्द, ऐंठन और मूड स्विंग्स को भी नियंत्रित रखते हैं।

मेथी के फायदे कब्ज के लिए – Methi For Constipation

अगर आपको कब्ज की शिकायत है तो मेथी का पानी से इस समस्या में भी राहत मिल सकती है। दरअसल मेथी के बीजों में घुलनशील फाइबर पाया जाता है, जो कब्ज में फायदेमंद होता है। ये प्राकृतिक रूप से आपका पेट साफ करते हैं और कब्ज से मुक्ति दिलाते हैं। इसके लिए रात को सोने से पहले एक ग्लास पानी में मेथी पाउडर मिलकर पिए। सुबह आपको कब्ज की समस्या से राहत मिल जाएगी। ध्यान रहे इस तरीके को छोटे बच्चों के ऊपर आजमाने की कोशिश बिलकुल न करें। छोटे बच्चों के कब्ज की समस्या हो तो डॉक्टर से परामर्श लें उन्हें मेथी का पानी न पिलाएं।  

मेथी के फायदे दिल के लिए – Methi For Heart

मेथी के बीजों में पाए जाने वाले पोषक तत्व आपके दिल के स्वास्थ्य को बनाए रखने में काफी फायदेमंद होते है। ये ह्रदय के रक्त प्रवाह को नियमित कर उसे स्वस्थ बनाता है और ब्लड क्लॉट से बचाव करता है और ह्रदय रोग को भी कम करता है। इसका सेवन करने के लिए एक ग्लास में एक चम्मच मेथी के दानें डालें, अब उन्हें उबाल कर छान लें और अपने स्वादानुसार उसमें शहद मिला लें। शहद मिलाने से मेथी की पानी की कड़वाहट थोड़ी कम हो जाएगी और ये पीने में आसान रहेगा। इसे रोज़ पीने से आपको जरूर फायदा मिलेगा।

मेथी के फायदे त्वचा के लिए – Benefits Of Fenugreek Seeds For Skin

मेथी आपकी खूबसूरती बढ़ाने में भी फायदेमंद होती है। ये त्वचा से मुंहासों को दूर करने के साथ उसमें झुर्रियां को आने से भी रोकती है। इसके चमत्कारी औषधीय गुण त्वचा के दाग- धब्बों को भी कम करता है। इसके लिए मेथी के पत्तों को पीसकर उसका लेप बना लें और चारे पर लगा लें, इससे त्वचा के दाग- धब्बे कम हो जाते हैं। साथ ही त्वचा में ताज़गी बानी रहती है। इसके अलावा मेथी के बीज आपकी त्वचा को मॉइश्चराइज़ कर उसके रूखेपन को दूर करते हैं। इसके लिए एक चम्मच मेथी पाउडर में थोड़ा सा दही मिलकर गाढ़ा पेस्ट बना लें। लगभग 30 मिनट बाद इसे हाथों से स्क्रब करते हुए छुड़ा लें। इससे आपके चेहरे की त्वचा की मृत कोशिकाएं दूर हो जाएंगी। आखिर में चेहरे को ठंडे पानी से धो लें। सर्दियों में हल्का गुनगुना पानी भी इस्तेमाल कर सकती हैं। ऐसा हफ्ते में एक बार करेंगी तो बेहतर परिणाम मिलेंगे।

शरीर की त्वचा को कोमल बनाना चाहती हैं तो तो मेथी के पत्तों के रस में नींबू का रस मिलकर त्वचा पर मलिए। इससे त्वचा पर निखार आता है और वो कोमल बनती है। कील- मुंहासों से आजादी चाहती हैं तो नहाने से आधा घंटा पहले मेथी की पत्तियों को पीसकर इसका लेप चेहरा पर लगाएं। इससे चेहरे में मौजूद कील मुंहासों से छुटकारा मिलता है और वो जल्दी दोबारा नहीं आते। आप इस लेप को रात को सोने से पहले भी चेहरे पर लगा सकती हैं। सुबह चेहरे को धोकर लेप साफ कर लें। इससे चेहरे को कालापन भी दूर होता है।

मेथी के फायदे बालों के लिए – Benefits Of Fenugreek Seeds For Hair

खूबसूरती की बात आती है तो बालों को कैसे नजरअंदाज किया जा सकता है। त्वचा क साथ- साथ मेथी बालों के लिए भी काफी ज्यादा फायदेमंद होती है। इसमें अधिक मात्रा में प्रोटीन होता है जो बालों के विकास में तेजी लाने में सहायक होता है। मेथी बालों के झड़ने, उन्हें काला बनाने व रूसी दूर करने में मददगार होती है। साथ ही बालों को घना, स्वस्थ व मजबूत भी बनाती है। अगर आपके बाल झड़ते हैं तो मेथी के पत्तों की सब्जी खाएं या फिर एक चम्मच मेथी के दानों को रोज़ाना पानी के साथ लें। इससे बाल झड़ने की शिकायत दूर हो जाती है। इसके अलावा आप मेथी के बीजों या पत्तों को पीसकर उसका लेप भी बालों की जड़ों में लगा सकती हैं और सूखने के बाद बालों को धो लें। इससे भी बाल झड़ना बंद हो जाते हैं।

बालों को घना व मजबूत बनाने के लिए नारियल के दूध के साथ 2 चम्मच मेथी के बीज के पाउडर को मिला लें। अब इस पेस्ट को सिर व बालों पर लगा लें और 30 मिनट बाद बालों को शैम्पू से धो लें। इससे बाल घने व मजबूत बनते हैं। बेहतर परिणाम के लिए ऐसा हफ्ते में कम से कम एक बार जरूर करें।

अगर बाल काले करना चाहती हैं तो लगभग 50 ग्राम मेथी दानों को रातभर पानी में भिगो कर रखें। सुबह इस भीगी हुई मेथी को पीसकर बालों पर लेप लगा लें औरआधे घंटे बाद बालों को धो लें। ऐसा रोज़ करने पर बाल काले हो जाते हैं। इसके अलावा आप 50 ग्राम पिसे हुए मेथी दाने में नारियल तेल मिलकर लगभग 4 दिन के लिए रख दें। उसके बाद छानकर इस तेल को बालों में लगाएं। इससे आपके बाल काले, चमकदार व मजबूत रहेंगे।

बाल अगर रूखें हैं तो चार बड़े चम्मच दही में तीन चम्मच पिसे हुए मेथी दानों को आधे घंटे के लिए भिगो दें। अब इसे सर की त्वचा पर लगाकर 30 मिनट के लिए छोड़ दें और फिर शैम्पू कर लें। इससे आपके बालों का रूखापन दूर होगा और वो मुलायम बनेंगे। एक उपाय और है, इसके लिए आप 4 चम्मच मेथी पाउडर में 1 नींबू का रस और 1 पिसा हुआ केला मिला लें। अब इस पेस्ट को सिर पर लगाकर सूखने दें और सूखने के बाद बालों को अच्छी तरह से धो लें। इससे आपके बाल मुलायम व चमकदार बनेंगे।  

मेथी के नुकसान – Side Effects Of Fenugreek

अगर किसी चीज़ के फायदे होते हैं तो उसके नुकसान भी जरूर होते हैं। यही बार मेथी के साथ भी लागू होती है। मेथी के फायदे तो अपने बहुत जान लिए अब जानिए मेथी के कुछ नुकसान-

1: मेथी की तासीर गरम होती हैं इसलिए इसके अधिक सेवन से आपको दस्त की समस्या हो सकती है। खासतौर पर स्तनपान कराने वालीं महिलाओं को दस्त की शिकायत है तो उन्हें मेथी का सेवन तत्काल रूप से बंद कर देना चाहिए, इससे बच्चे को भी दस्त की शिकायत हो सकती है।

2: इसके घरेलू उपायों को त्वचा पर लगाने से पहले थोड़ा आजमा लें, देख लें कहीं आपको इसे लगाने से किसी प्रकार की एलर्जी तो नहीं है। पूरी तरह से संतोष होने के बाद ही इसे त्वचा पर लगाएं।

3: मेथी का ज्यादा सेवन खट्टी डकार, पेट में सूजन आदि समस्याएं पैदा कर सकता है। इसलिए जब भी मेथी खाएं कम मात्रा में ही खाएं।

4: प्रेगनेंसी के दौरान मेथी का सेवन बिलकुल न करें। इससे इंटरनल ब्लीडिंग की समस्या हो सकती है।

5: अगर आप किसी बीमारी से संबंधित दवाइयां ले रहे हैं तो डॉक्टर से परामर्श के बाद ही नियमित रूप से मेथी का सेवन करें।   

We will be happy to hear your thoughts

Leave a reply

Labtry.com
Login/Register access is temporary disabled
Compare items
  • Total (0)
Compare